पानी की टंकी ओवरफ्लो हुई तो कटेगा कनेक्शन

4/16/2021 10:55:46 AM

धर्मशाला (कर्मपाल) : गर्मियों में पानी बचाने के लिए जल शक्ति विभाग सतर्क हो गया है। इस साल बारिश न होने व पहाड़ों पर कम बर्फबारी होने से पेयजल योजनाओं के स्त्रोतों में जलस्तर गिरा है। इसे देखते हुए जल शक्ति विभाग गर्मियों में पानी बचाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है, ताकि लोगों को आगामी दिनों में पेयजल किल्लत से न जूझना पड़े। जानकारी के अनुसार जल शक्ति विभाग लोगों को पेयजल व्यर्थ गंवाने पर जागरूक तो कर रही है साथ ही इसे व्यर्थ गंवाने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने के मूड़ में भी है। घरों में पानी की टंकी ओवरफ्लो होने पर कनेक्शन काटे जाने तक की कार्रवाई हो सकती है। वहीं जिन स्थानों पर पानी की लीकेज की समस्या है उन्हें भी विभाग दुरुस्त करने में जुटा हुआ है। इस संबंध में सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में लीकेज प्वाइंटों को चिन्हित करें और इसे तुरंत रोका जाए। विभाग के उच्चाधिकारी समय पर इसकी रिपोर्ट उनसे ले रहे हैं।

45 स्कीमों में गिरा जलस्तर

धर्मशाला डिविजन के अंतर्गत 430 पेयजल योजनाओं आती हैं। इनमें से 45 स्कीमें बारिश व कम बर्फबारी से प्रभावित हुई हैं। विभागीय आंकड़ों के अनुसार इन स्कीमों में लगभग 25 प्रतिशत तक जलस्तर गिरा है। हालांकि विभागीय अधिकारियों का कहना है कि इन स्कीमों में जलस्तर गिरने के बाद भी लोगों को पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध करवाया जा रहा है।

पेयजल बचाने को छात्र करेंगे जागरूक

जल शक्ति विभाग छात्रों के माध्यम से लोगों का पानी बचाने का संदेश देगा। छात्रों अपने परिजनों के साथ-साथ पड़ोस में भी पानी के महत्व पर प्रकाश डालेंगे। जानकारी के अनुसार विभाग ने इस संबंध में शिक्षा बोर्ड के अधिकारियों से बात की है। जल शक्ति विभाग की तरफ से शिक्षक ऑनलाइन क्लास के दौरान छात्रों से पानी बचाने के लिए अपील करेंगे। अधीक्षण अभियंता जल शक्ति विभाग सुरेश महाजन का कहना है कि कुछ पेयजल स्त्रोतों में पानी की कमी आई है। सभी अधिकारियों को अपने क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति सही रखने के निर्देश दिए हैं। पानी व्यर्थ गंवाने वालों के कनैक्शन काटने के निर्देश भी दिए गए हैं। 
 


Content Writer

prashant sharma

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static