हिमाचल में आया 750 करोड़ का निवेश, फार्मा पार्क को लेकर एमओयू साइन

punjabkesari.in Friday, Jan 21, 2022 - 09:39 PM (IST)

1000 लोगों को मिलेगा रोजगार
शिमला (कुलदीप):
हिमाचल प्रदेश को बल्क ड्रग फार्मा पार्क से फार्मा पार्क स्वीकृत हुआ है। इसको लेकर मैसर्ज जेएजीएस फार्मा प्राइवेट लिमिटेड प्रदेश में 750 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इससे प्रदेश में 1000 से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। निदेशक उद्योग राकेश प्रजापति ने कंपनी के पदाधिकारी अमनदीप सिंह, जसपिंद्र सिंह, गगनीत सिंह और कर्ण आहुजा के साथ एमओयू साइन किया। इस फार्मा पार्क के लिए करीब 20-30 एकड़ जमीन की आवश्यकता है और कंपनी बीबीएन क्षेत्र में अपना यूनिट स्थापित करेगी। यहां पर 8 से 10 सहायक इकाइयों के भी आने की उम्मीद है। प्रमोटर पिछले 2 दशक से हिमाचल में पहले से ही विभिन्न फार्मास्यूटिकल फॉर्मूलेशन और संबद्ध उद्योग चला रहे हैं। एमओयू के अनुसार पार्क की अनुमानित एपीआई क्षमता 4000 टन होगी। इसमें दर्द निवारक एंटीबायोटिक्स व एंटी डायबिटिक कार्डियो वैस्कुलर बनेंगे। उल्लेखनीय है कि उद्योग विभाग ने बल्क ड्रग फार्मा पार्क के लिए सबसे ज्यादा प्रतिस्पर्धी बोली जमा कर दी है। इसका मूल्यांकन केंद्र सरकार की तरफ से किया जा रहा है।  

850 करोड़ से किनवन फार्मा पार्क भी विकसित होगा

इसके अलावा नालागढ़ में 850 करोड़ रुपए के निवेश से किनवन फार्मा पार्क को भी विकसित किया जा रहा है, जो देश में एंटीबायोटिक आवश्यकता की 57 फीसदी आवश्यकता को पूरा करेगा। फार्मास्यूटिकल्स विभाग भारत सरकार ने पहले ही उत्पादन से जुड़ी योजना के तहत मै. किनवन फार्मा परियोजना को मंजूरी दे दी है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News