हिमाचल में आज से तूफान का यैलो अलर्ट, 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चलेगी आंधी

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 12:23 AM (IST)

शिमला (ब्यूरो): हिमाचल प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम के तेवरों में बदलाव आएगा और पूरे प्रदेश में तेज आंधी के साथ बारिश व ओलावृष्टि का दौर चलेगा। मौसम विभाग की मानें तो आगामी 24 मई तक प्रदेश में मौसम खराब रहेगा। शुक्रवार देर रात भी जहां करसोग, रामपुर बुशहर, मंडी जिले के लडभड़ोल, सुजानपुर में तेज तूफान के कारण सेब, पलम, आड़ू व आम के पौधों को भारी नुक्सान हुआ है, वहीं अनेक स्थानों पर घरों की टीन की चदरें उड़ गईं। 

मौसम विभाग के अनुसार 21 से 24 मई तक प्रदेश के कई जिलों में तेज बारिश व ओलावृष्टि हो सकती है, वहीं उच्च पर्वतीय इलाकों में बर्फ गिरने के आसार हैं। मैदानी व मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में 21 व 22 मई को बिजली कड़कने, 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से अंधड़ चलने का यैलो अलर्ट जारी किया गया है। लाहौल-स्पीति और किन्नौर जिलों को छोड़कर शेष 10 जिलों में ये अलर्ट जारी रहेगा। इन जिलों में 23 मई को ऑरेंज अलर्ट रहेगा। इस दिन 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से अधंड़ चलने की आशंका है। 

24 मई को 10 जिलों में फिर से यैलो अलर्ट की चेतावनी दी गई है। मौसम विभाग के इस ताजा पूर्वानुमान से किसानों व बागवानों की ङ्क्षचताएं बढ़ गई हैं। अंधड़ व ओलावृष्टि से पर्वतीय क्षेत्रों में सेब व मैदानों में आम व अन्य फ सलों को नुक्सान पहुंच सकता है। मौसम विभाग के निदेशक सुरेंद्र पाल ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से अगले 3 दिन प्रदेश में बारिश, ओलावृष्टि व अंधड़ चलने की संभावना है। इस दौरान घरों से बाहर निकलने पर लोगों को एहतियात बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई। खेरी में 9, कल्पा 4, रिकांगपिओ व सलोनी 3.3 और डल्हौजी में 2 मिलीमीटर बारिश हुई है। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News