कोरोना नैगेटिव रिपोर्ट पर ही करवाएं जा रहे माता ज्वालामुखी के दर्शन

7/28/2021 12:16:31 PM

ज्वालामुखी (सह): शक्तिपीठ ज्वालामुखी मंदिर में दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं को अब कोविड सैंटर में कोरोना रैपिड टेस्ट से गुजरना पड़ रहा है और नैगेटिव आने के बाद ही श्रद्धालुओं को दर्शन करवाए जा रहे हैं। यह सुविधा ज्वालामुखी मंदिर के बाहर लंगर भवन के खाली परिसर में शुरू की गई है, जिसमें स्वास्थ्य कर्मी श्रद्धालुओं के रोजाना रैंडम टेस्ट कर रहे हैं। यह प्रक्रिया पिछले 5 दिनों से चल रही है और अभी तक माता रानी की कृपा से सभी टेस्ट नैगेटिव ही आए हैं।
गौरतलब है कि ज्वालाजी मंदिर में 9 अगस्त को श्रावण अष्टमी नवरात्र शुरू होने जा रहे हैं और कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए शक्तिपीठ ज्वालामुखी में डी.सी. कांगड़ा डा. निपुण जिंदल द्वारा यह सुविधा शुरू की गई है इसके अलावा चामुंडा में भी कोविड टेस्ट सैंटर बनाया गया है। मन्दिर प्रसाशन श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए कोई ढील नहीं बरत रहा है। रोजाना यहां टेस्ट किए जा रहे हैं और स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा श्रद्धालुओं के रैंडम टेस्ट प्रतिदिन किए जा रहे हैं, ताकि कोई भी संक्रमण ज्वालामुखी मन्दिर व आसपास न फैले और एहतियात बरती जा सके। इस संदर्भ में मन्दिर न्यास सदस्य पुजारी सौरभ शर्मा ने बताया कि श्रद्धालुओं को कोविड रेपिड टेस्ट के बाद दर्शन करवाए जा रहे हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Rajneesh Himalian

Recommended News

static