विकास कार्यों की बात करो तो कोरोना महामारी का बहाना बना देती है सरकार: ठाकुर

punjabkesari.in Monday, Jun 14, 2021 - 03:16 PM (IST)

बिलासपुर (मुकेश गौतम) : एक तो गर्मियों का मौसम, पानी के लिए मारामारी और उसके ऊपर पिछले 2 महीनों से टूटी हुई पानी की पाइप जिसका सारा पानी नाले में बह रहा है। इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विधायक ठाकुर रामलाल ने आज भाजपा सरकार पर कड़े प्रहार किया। उन्होंने कहा कि भाजपा की पूरी सरकार ही लगता है कि कोरोना पाॅजिटिव हो गई है। जब भी कोई विकास कार्यों की बात होती है तो सरकार कोरोना महामारी का बहाना बना लेती है। 
PunjabKesari
उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता इस गर्मी के मौसम में भी बेहाल है पानी की स्कीमों का पानी सड़कों पर बह रहा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विधायक ठाकुर रामलाल ने मांग की है कि ठेकेदार के द्वारा सड़क के कार्य के चलते पानी की पाइप तोड़ दी गई और जो सड़क की मिट्टी थी वो भी लोगों के खेतों में फेंक दी गई और अपना कार्य पूर्ण कर के चला गया। लेकिन पिछले 2 महीनों से पानी की मेन पाइप टूटी है, सारा पानी नाले में बह रहा है और लोग पानी के लिए त्राहि-त्राहि कर रहे हैं लेकिन उस पाइप को अभी तक जोड़ा नहीं गया है। ठाकुर रामलाल ने कहा कि अली खड्ड से यह पानी की स्कीम उठाई गई है और टेपरा गांव के पास यह पाइप टूटी है लेकिन उसे अभी तक लोगों की शिकायतों के बावजूद ठीक नहीं किया गया। सारा पानी नाले में जा रहा है।

रामलाल ने कहा कि हर जगह यही हालात है उनके विधानसभा क्षेत्र चंगर क्षेत्र में सहायक अभियंता जल शक्ति विभाग का पद खाली है। इसके अलावा स्वारघाट में सहायक अभियंता के पद पर रिटायर मेंट के नजदीक अधिकारी को बिठाया गया है। जबकि स्वारघाट से लेकर भाखड़ा तक कनिष्ठ अभियंता के 4 पद है और स्वारघाट से लेकर भाखड़ा तक मात्र एक ही कनिष्ठ अभियंता तैनात है। तो फिर कैसे पानी लोगों को मिलेगा। उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग मुख्यमंत्री के पास है, लेकिन नम्होल जो एक महत्वपूर्ण स्टेशन है वहां पर तो लोक निर्माण विभाग का सहायक अभियंता का पद और कनिष्ठ अभियंता का पद भी खाली है। उन्होंने कहा कि लोगों के काम कैसे होंगे अगर अधिकारी ही तैनात नहीं है तो लोगों को समस्याओं का सामना तो करना पड़ेगा। उन्होंने सरकार से मांग की है कि उनके विधानसभा क्षेत्र में अधिकारियों की तैनाती की जाए ताकि लोगों को राहत मिल सके।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

prashant sharma

Related News

Recommended News