सिद्धिविनायक गौशाला मुहल में मनाया गोपाष्टमी पर्व

11/22/2020 6:24:50 PM

देहरा (राजीव शर्मा): सिद्धिविनायक गौशाला मुहल देहरा में गोपाष्टमी पर्व धूमधाम से मनाया गया। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को गोपाष्टमी का पर्व मनाया जाता है। इस वर्ष यह 22 नवम्बर को मनाया गया। वहीं विधिवत पूजा के बाद मुहल गौशाला में गऊओं की पूजा की गई। सिद्धिविनायक गौशाला के अध्यक्ष सुनील शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि यह त्यौहार गायों को ही समर्पित है। गौशाला के दिन लोग गायों के प्रति कृतज्ञता और सम्मान दर्शाते हैं। गायों को जीवन देने वाला कहा गया है। इन्हें गौ माता भी कहा जाता है। इनकी पूजा ठीक उसी तरह की जाती है जिस तरह किसी देवी की पूजा की जाती है।
PunjabKesari, Gopashtami Festival Image

सुनील शर्मा न गोपाष्टमी का महत्व बताते हुए कहा कि हिंदू धर्म की संस्कृति और आत्मा गायों को माना गया है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, मान्यता है कि एक गाय के अंदर कई देवी-देवता निवास करते हैं, ऐसे में हिंदू धर्म में गाय की पूजा करना बेहद जरूरी होता है, साथ ही इसका महत्व भी बहुत ज्यादा होता है। वहीं एडवोकेट अभिषेक पाधा ने कहा कि गाय को आध्यात्मिक और दिव्य गुणों का स्वामी भी कहा गया है। मान्यताओं के अनुसार जो लोग गोपाष्टमी की पूर्व संध्या पर गाय की विधिवत पूजा करते हैं उन्हें खुशहाल जीवन का आशीर्वद प्राप्त होता है, साथ ही अच्छे भाग्य का आशीर्वाद भी मिलता है। यह गोपाष्टमी के दिन पूजा करने वाले व्यक्ति की मनोकामना पूरी होती हैं।
PunjabKesari, Gopashtami Festival Image

वहीं आज मुहल गौशाला में गोपाष्टमी का पर्व हिंदू अनुष्ठानों के अनुसार, बछड़े और गायों की एक साथ पूजा व प्रार्थना की गई। इस दिन गऊओं की पूजा पानी, चावल, कपड़े, इत्र, गुड़, रंगोली, फूल, मिठाई, और अगरबत्ती के साथ की गई व पुजारी द्वारा गोपाष्टमी की विशिष्ट पूजा भी की गई। इस मौके पर अध्यक्ष सुनील शर्मा, डॉ. राजिंदर त्रिपाठी, कौशल, अश्वनी धीमान, एडवोकेट अभिषेक पाधा, बंसल, डॉ. राजेश भाटिया, मनोज शर्मा व रमेश शर्मा आदि मौजूद रहे।


Vijay

Recommended News