हिमाचल में मानसून की एंट्री, मौसम विभाग ने जारी किया ऑरैंज अलर्ट

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 11:17 PM (IST)

शिमला (राजेश): हिमाचल में मानसून पहुंच गया है। मानसून के प्रदेश में दस्तक देते ही प्रदेश के कई जिलों में बीती रात से झमाझम बारिश हुई है। मंडी, शिमला, चम्बा समेत कई इलाके बारिश से भीगे हैं। इससे लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है। बुधवार को शिमला में धुंध और बारिश के चलते विजिबिलिटी कम हो गई और करीब 3 घंटों तक तेज बारिश का दौर चलता रहा। लंंबे इंतजार के बाद आखिर बुधवार को हिमाचल में उत्तर पश्चिम मानसून पहुंच ही गया। मौसम विभाग के निदेशक सुरेंद्र पाल ने प्रदेश में मानसून के आने की आधिकारिक पुष्टि की है। सुरेंद्र पाल ने कहा कि प्रदेश में अगले दो दिनों तक मानसून की अच्छी बारिश होगी। जुलाई में मानसून सक्रिय रहेगा और सितम्बर तक रहेगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश में मानसून सामान्य रहेगा। लोग 25 जून के बाद मानसून के आने का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। मानसून को लेकर लोगों का इंतजार आज खत्म हुआ और प्रदेश में जोरदार बारिश हो रही है। इससे एक ओर जहां लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है, वहीं सूखे की स्थिति से भी अब राहत मिलने की उम्मीद है। 

4 बार प्रदेश में देरी से पहुंचा मानसून
मौसम विभाग ने अगले 3 दिनों के दौरान कांगड़ा, पालमपुर, मंडी, जोगिंद्रनगर, सुंदरनगर, बिलासपुर, घुमारवीं, सोलन, अर्की, कंडाघाट, हमीरपुर, सुजानपुर सहित कई क्षेत्रों में अधिक बारिश होने की चेतावनी देते हुए ऑरैंज अलर्ट जारी किया है। इस दौरान इन क्षेत्रों में 65 से 115 मिलीमीटर तक बारिश होने का अनुमान लगाया गया है। मौसम विभाग के अनुसार इस साल प्रदेश में मानसून अपने तय समय से 4 दिन देरी से पहुंचा है। मौसम विभाग की मानें तो प्रदेश में मानसून के आने की समय अवधि 25 जून है लेकिन इस बार मानसून 4 दिन देरी से पहुंचा है। पिछले 10 साल के रिकॉर्ड के अनुसार 4 बार प्रदेश में मानसून देरी से पहुंचा है। मानसून आने के साथ प्रदेश में खराब मौसम के चलते न्यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। न्यूनतम तापमान सामान्य से एक से 2 डिग्री सैल्सियस कम रिकॉर्ड किया गया है। 

सरकाघाट में सबसे अधिक बारिश दर्ज
बुधवार को मानसून की पहली सबसे अधिक बारिश प्रदेश के सरकाघाट में दर्ज की गई। सरकाघाट में 109 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। इसके अतिरिक्त भोरंज में 100, सुजानपुर में 84, बलद्वाड़ा में 72, देहरा में 54, शिमला में 48, पालमपुर में 48, पंडोह में 47, बिलासपुर में 39, अर्की में 34, कांगड़ा में 33 और रेणुका में 30 मिलीमीटर बारिश हुई है।

4 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट 
मौसम विभाग ने आने वाले एक हफ्ते में प्रदेश में मौसम के खराब रहने का अनुमान लगाया है। इस बीच प्रदेश में लगातार 4 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। प्रदेश भर में बुधवार और वीरवार को भारी बारिश और अंधड़ को लेकर ऑरैंज अलर्ट जारी हुआ है। इससे पहले मंगलवार को शिमला, मंडी, कांगड़ा और हमीरपुर जिले के कई क्षेत्रों में बारिश हुई थी। हिमाचल में 2 जुलाई तक भारी बारिश और आंधी चलेगी। 

पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन की संभावना, एडवाइजरी जारी 
मौसम विभाग के अनुसार भारी बारिश के कारण पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन की संभावना है। ऐसे में पर्यटक व स्थानीय लोग संबंधित विभागों की ओर से जारी एडवाइजरी और दिशा-निर्देशों का पालन करें। प्रशासन को पर्याप्त सुरक्षा उपाय करने की सलाह दी गई है। बरसात के मौसम में बाढ़ आने और भूस्खलन का खतरा बना रहता है। आपदा की स्थिति में मदद के लिए जिला आपदा नियंत्रण कक्ष के नंबरों के अलावा टोल फ्री नंबर 1077 पर संपर्क किया जा सकता है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News