जानिए क्यों आशा कुमारी को कहना पड़ा-‘‘ये पब्लिक है ये सब जानती है’’

7/21/2020 8:16:10 PM

डल्हौजी (शमशेर): प्रदेश सरकार द्वारा बस किराये में 25 प्रतिशत की बढ़ौतरी को मंजूरी दिए जाने पर ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी की महासचिव व डल्हौजी विधानसभा क्षेत्र की विधायक आशा कुमारी ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कोरोना संकट के चलते प्रदेश की जनता पहले से ही आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रही है ऐसे में बसों का किराया बढ़ा दिए जाने से जनता पर और ज्यादा बोझ डाल दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता पहले से ही लॉकडाऊन के कारण विभिन्न प्रकार की समस्याओं से जूझ रही है। कई परिवारों को तो दो वक्त के भोजन के भी लाले पड़े हुए हैं, ऐसे में सरकार द्वारा बस किरायों में 25 तक वृद्धि करना निंदनीय है और कांग्रेस पार्टी इस जन विरोधी निर्णय का कड़े शब्दों में विरोध करती है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने पौने तीन साल के कार्यकाल के दौरान ही बस किराये में 50 फीसदी वृद्धि कर दी है, जिससे प्रदेश की गरीब जनता जो कि बसों में सफर करती है उन पर यह दोहरी मार है एक तो पहले ही कोरोना की वजह से लोग आर्थिक तंगहाली से जूझ रहे हैं उस पर 25 प्रतिशत किराया बढ़ाया जाना न्यायसंगत नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर मनरेगा न होता तो प्रदेश के अधिकतर गरीब परिवार सड़कों पर आ जाते।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के कुछ फैसले बिल्कुल तर्कसंगत नहीं हैं जैसे कि बसों में तो 100 प्रतिशत बैठने की क्षमता को मंजूरी दे दी गई जबकि ढाबे व रैस्टोरैंट आदि में केवल 60 प्रतिशत की अनुमति दी गई है जबकि बसों में बिना सोशल डिस्टैंसिंग के कई घंटों का सफर करना पड़ता है लेकिन रैस्टोरैंट में लोगों का ठहराव कुछ ही समय का रहता है, ऐसे में प्रदेश सरकार के ये निर्णय अजीबोगरीब हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर निशाना साधते हुए कहा कि बेशक वह यह सोचते हों उन्हें विपक्ष की सलाह की जरूरत नहीं है लेकिन कांग्रेस पार्टी जनहित के किसी भी मुद्दे पर अपनी भूमिका निभाने में पीछे नहीं हटेगी और हमेशा सही सलाह देती रही है और देती रहेगी और प्रदेशहित के मुद्दों को हमेशा उठाती रहेगी। उन्होंने प्रदेश सरकार को चेताते हुए कहा कि सरकार को चाहिए कि जो हिमाचल की जनता के हित में हो वो निर्णय ले वरना ये जो पब्लिक है यह सब जानती है।


Vijay

Related News