मुख्यमंत्री राहत कोष से कैंसर पीडि़ता को स्वीकृत हुए 20 हजार, मिले 11 हजार

4/21/2021 10:51:36 AM

देहरा (ब्यूरो): उपमंडल देहरा के गांव पदेड की कैंसर पीडि़त महिला को सरकार की ओर से जारी हुई आर्थिक सहायता में गड़बड़ी का मामला सामने आया है। इसको लेकर महिला के परिजनों ने गोलमाल एवं भेदभाव का आरोप लगाते हुए स्वीकृत राशि से लगभग आधा पैसा ही उन तक पहुंचाने का आरोप लगाया है। इसको लेकर उन्होंने 2 बार सी.एम. हैल्पलाइन नंबर 1100 पर शिकायत भी की, लेकिन कुछ नहीं हुआ। हालांकि अब उक्त पीडि़त महिला बीमारी के चलते दम तोड़ चुकी है लेकिन परिजनों को अभी इस बात का मलाल है कि अगर पैसा स्वीकृत हुआ था तो उपमंडल स्तर से पूरा पैसा क्यूं नहीं मिला और अधिकारिक राशि को अधिकारिक तौर पर न भेजकर किसी व्यक्ति विशेष के हाथ क्यों भेजा गया। हालांकि यह मामला लगभग 1 साल पहले का बताया जा रहा है। परिजनों का कहना है कि इस मामले को लेकर 2 बार मुख्यमंत्री सेवा संकल्प में शिकायत दर्ज करवाई गई लेकिन कोई प्रयुक्त जवाब नहीं मिला है।

शिकायतकर्ता दिनेश का कहना है कि उनकी माता अधिक पढ़ी लिखी न होने के बावजूद उन्होंने इस चैक को लेने से मना किया था तथा उनको राहत राशि का चैक एस.डी.एम. कार्यालय से मिलने की बजाय किसी व्यक्ति के माध्यम से प्राप्त हुआ था। दिनेश का कहना है कि पहले 2 माह तक तो संबंधित बैंक से उक्त धनराशि की निकासी परिवारा द्वारा नहीं की गई थी लेकिन पीडि़त मां के इलाज हेतु लाचार होने पर मजबूरन उनको मिले चैक की राशि निकालनी पड़ी थी। परिजनों ने इस मामले को लेकर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है तथा उक्त मामले की उच्च स्तरीय जांच करवाने की मांग की है।
- उक्त पीडि़ता को 20000 की राशि स्वीकृत हुई थी, लेकिन हमारे पास सरकार की तरफ से मात्र 11000 रुपए ही आए थे, जो उनको दे दिए गए थे। उपमंडल देहरा में मुख्यमंत्री राहत कोष के तहत उस समय 15 से 20 लोगों के लिए पैसा आया था जिसे सभी में बांट दिया गया था। - धनवीर ठाकुर, एस.डी.एम. देहरा।


Content Writer

Jinesh Kumar

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static