काजा में 9वीं राष्ट्रीय महिला आईस हॉकी चैम्पियनशिप शुरू, सीएम जयराम ने किया शुभारंभ

punjabkesari.in Sunday, Jan 16, 2022 - 07:39 PM (IST)

काजा (ब्यूरो): मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने रविवार को जिला लाहौल-स्पीति स्थित आईस स्केटिंग रिंक काजा में 9वीं राष्ट्रीय महिला आईस हॉकी चैम्पियनशिप 2022 का शुभारंभ किया। इस अवसर पर जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में पहली बार राष्ट्रीय स्तर की आईस हॉकी प्रतियोगिता एवं विकास शिविर का आयोजन किया जा रहा है, आईस हॉकी विश्व के सबसे लोकप्रिय शीतकालीन खेलों में से एक है। यह आयोजन युवा पीढ़ी में आईस हॉकी को प्रोत्साहित करने के साथ-साथ क्षेत्र के पर्यटन विकास को भी बढ़ावा देगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड, लद्दाख, कश्मीर और अन्य हिमालयी राज्यों में यह खेल काफी प्रचलित है। इस खेल के माध्यम से क्षेत्र के पर्यटन के विकास को नया आयाम मिलेगा। इस मैगा आयोजन में हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, लद्दाख, आईटीबीपी लद्दाख, चंडीगढ़ और दिल्ली की टीमें भाग ले रही हैं।
PunjabKesari, CM Jairam Thakur Image

वर्ष 2019 में हुआ था बेसिक आईस हॉकी का पहला प्रशिक्षण शिविर

उन्होंने कहा कि लद्दाख वूमैन आईस हॉकी फाऊंडेशन के संयुक्त तत्वावधान से युवा सेवाएं एवं खेल विभाग ने वर्ष 2019 में काजा में बेसिक आईस हॉकी का पहला 10 दिवसीय प्रशिक्षण शिविर लगाया था। स्पीति के अलावा मंडी और किन्नौर के बच्चे आईस हॉकी की बारीकियां सीखने आए थे। सूचना प्रौद्योगिकी एवं जनजातीय विकास मंत्री डाॅ. राम लाल मारकंडा ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले 4 वर्षों के दौरान जनजातीय क्षेत्रों के विकास पर विशेष बल दिया है। इस अवसर पर हिमाचल प्रदेश आईस हॉकी एसोसिएशन के अध्यक्ष अभय डोगरा, महासचिव रजत मल्होत्रा, पांच प्रमुख गोम्पा के प्रमुख, टीएसी के सदस्य राजेंद्र बोध, उपाध्यक्ष तन्योत टाकपा, भाजपा मंडल अध्यक्ष राकेश कुमार और अन्य गण्यमान्य उपस्थित रहे।
PunjabKesari, Ice Hockey Championship Image

स्वर्ण पदक हासिल करने पर मिलेगी 3 करोड़ पुरस्कार राशि

जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए हाल ही में राज्य सरकार ने स्वर्ण जयंति खेल नीति 2021 को मंजूरी प्रदान की है। इस नीति के तहत खिलाडिय़ों को सरकारी नौकरियों में 3 प्रतिशत का आरक्षण प्रदान किया जाएगा और मिलने वाली आहार राशि को दोगुना किया जाएगा। नई खेल नीति के तहत ओलिम्पिक, शीतकालीन ओलिम्पिक या पैरा ओलिम्पिक में स्वर्ण पदक हासिल करने पर 3 करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी। रजत पदक हासिल करने वाले खिलाड़ी को 2 करोड़ रुपए और कांस्य पदक विजेता खिलाड़ी को एक करोड़ रुपए की राशि प्रदान की जाएगी।। इसके साथ ही इन खेलों में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को 15 लाख रुपए दिए जाएंगे और ओलिम्पिक, एशियन, कॉमनवैल्थ के पदक विजेताओं को पैंशन प्रदान की जाएगी। अर्जुन अवार्ड, ध्यान चंद अवार्ड और राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड धारकों को मासिक वेतन दिया जाएगा।
PunjabKesari, Ice Hockey Championship Image

काजा में हाई एल्टीट्यूड स्पोर्ट्स सैंटर बनाने की घोषणा

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने 16 करोड़ रुपए की अनुमानित लागत से काजा में हाई एल्टीट्यूड स्पोर्ट्स सैंटर बनाने की घोषणा की है। युवा सेवाएं एवं खेल विभाग द्वारा 27 लाख रुपए व्यय करके खिलाड़ियों को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए स्केट बूट उपलब्ध करवाए गए हैं और प्रशासन द्वारा लिडांग, सगनाम, लोसर, ताबो और हिक्कमी में छोटे स्तर पर आईस रिंक तैयार किए गए हैं। उन्होंने स्थानीय विद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए अपनी एच्छिक निधि से 31 हजार रुपए देने की घोषणा की, वहीं काजा में लोगों की समस्याएं भी सुनीं।

दिल्ली और चंडीगढ़ रहे विजेता

इस प्रतियोगिता का पहला मैच दिल्ली और हिमाचल प्रदेश के मध्य खेला गया, जिसमें दिल्ली ने 4-0 से जीत हासिल की। दूसरे मैच में चंडीगढ़ ने तेलंगाना को 1-0 से हराकर जीत हासिल की।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News