पुलिस ने 7 साल बाद धरा भगौड़ा, अघोरी बाबा बनकर यहां जमाए बैठा था डेरा

पुलिस ने 7 साल बाद धरा भगौड़ा, अघोरी बाबा बनकर यहां जमाए बैठा था डेरा

नेरचौक/कांगड़ा: पिछले कई वर्षों से पुलिस को चकमा दे रहा भगौड़ा पुलिस ने नगरोटा बगवां के मूमता से गिरफ्तार किया है। जिला मंडी निवासी धीरज कुमार (31) गांव हलबागी डाकघर पंडोह के खिलाफ 2005 में सुंदरनगर थाना में जेवरात व नकदी चोरी करने का मामला दर्ज हुआ था लेकिन आरोपी तब से न्यायालय में पेश नहीं हो रहा था, जिस पर न्यायाधीश सुंदरनगर ने वर्ष 2011 में उसे भगौड़ा करार दे दिया। कुछ दिन पहले पुलिस को सूचना मिली थी कि धीरज कुमार हरियाणा स्थित किसी आश्रम में अघोरी बाबा बनने की दीक्षा ले रहा है लेकिन दबिश देने पर पुलिस आरोपी को दबोचने में नाकामयाब रही थी।

सुंदरनगर पुलिस के हवाले किया अपराधी
इस बार पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि आरोपी जिला कांगड़ा के नगरोटा बगवां के गांव मूमता (मच्छयाल) में अघोरी बाबा शिवनाथ के रूप में डेरा डाले हुए है, जिस पर सोमवार को पी.ओ. सैल मंडी द्वारा मुख्य आरक्षी संजीव चंदेल की अगुवाई में आरक्षी जीत राम व दिनेश चौधरी ने उद्घोषित अपराधी को मच्छयाल स्थित श्मशानघाट पर रात के समय दबिश देकर पकडऩे में कामयाबी हासिल की। टीम ने भगौड़े अपराधी को गिरफ्त में लेकर सुंदरनगर पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। एस.पी. मंडी गुरुदेव शर्मा ने उद्घोषित अपराधी के पकड़े जाने की पुष्टि की है।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन