बिलासपुर में इन रोगियों का होगा नि:शुल्क इलाज

4/20/2019 10:16:05 AM

बिलासपुर : जिला आयुर्वेद विभाग बिलासपुर द्वारा अब बिलासपुर में लोगों के पुराने रोगों का प्राकृतिक चिकित्सा के साथ नि:शुल्क इलाज किया जाएगा। इसकी शुरूआत विभाग द्वारा आयुर्वैदिक अस्पताल बिलासपुर व आयुर्वैदिक अस्पताल कंदरौर में 21 अप्रैल को नि:शुल्क चिकित्सा कैंप के माध्यम से की जा रही है। इसके बाद विभाग द्वारा हर रविवार को इन दोनों अस्पतालों में नि:शुल्क चिकित्सा शिविर लगाए जाने की योजना बनाई गई है।

जानकारी के अनुसार आयुर्वेद विभाग द्वारा पुराने चमड़ी के रोग, घुटने के दर्द, पुराना नजला, माइग्रेन व सर्वाइकल आदि बीमारियों का इलाज प्राकृतिक चिकित्सा के माध्यम से किया जाएगा। विभाग द्वारा प्राकृतिक चिकित्सा जैसे मिट्टी, जोंक, मर्म चिकित्सा, जल नेती, खड्ड नेती, शलाका द्वारा व अग्रि कर्म चिकित्सा के माध्यम से इन पुरानी बीमारियों का इलाज किया जाएगा। जिला आयुर्वेद अधिकारी बिलासपुर डा. जय गोपाल शर्मा ने बताया कि आयुर्वेद में इन विधियों से पुरातन समय से इलाज किया जाता रहा है।

इन विधियों से इलाज करने पर रोगी को किसी प्रकार की कोई हानि नहीं होती। उन्होंने बताया कि इसके लिए विभाग द्वारा अपने चिकित्सकों को विशेष प्रशिक्षण देकर प्रशिक्षित किया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त आयुर्वैदिक अस्पताल बिलासपुर के प्रांगण में विभाग द्वारा एक्वाप्रैशर ट्रैक का निर्माण भी करवाया गया है। उन्होंने बताया कि इस ट्रैक पर चलने से शरीर के विभिन्न अंगों में उत्तेजना पैदा होती है और इससे सर्कुलेशन भी बढ़ता है तथा शरीर के ऑर्गन काम करना शुरू कर देते हैं। आयुर्वैदिक पद्धति से इलाज करने पर किसी प्रकार की हानि नहीं होती है। उन्होंने बताया कि लोग अब फिर से आयुर्वेद की ओर वापस आ रहे हैं। उन्होंने जिला के लोगों से इस शिविर का लाभ उठाने का आग्रह किया है।


kirti

Related News