रेलवे निजीकरण का खेल, हमीरपुर कैसे पहुंचेगी रेल : अभिषेक

7/3/2020 4:04:39 PM

हमीरपुर : केंद्र की मोदी सरकार द्वारा रेलवे के निजीकरण पर किए जा रहे निर्णय पर प्रदेश कांग्रेस सोशल मीडिया के चेयरमैन अभिषेक राणा ने एतराज जताते हुए कहा है कि अपनी बात से मुकरना भाजपा की खानदानी बात हो गई है। ऐसी परंपराएं चलाकर भाजपा की केंद्र सरकार ने सबको ठगने का काम किया है। जारी प्रेस विज्ञप्ति में उन्होंने कहा कि वर्तमान केंद्र सरकार द्वारा सार्वजनिक संपत्तियों का बेचना कोई नया काम नहीं है लेकिन अपनी बात से मुकरना देश की जनता को धोखा देना है। स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रेलवे का निजीकरण न करने का बयान दे चुके हैं जोकि सदन में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी रेलवे के निजीकरण से इंकार किया था। अब ऐसी क्या विपदा सरकार पर पड़ी है कि निजीकरण जैसा कड़ा फैसला लेने की जरूरत पड़ रही है। 

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार को ऐसा फैसला लेने से पहले ब्रिटेन में रेलवे के निजीकरण से उपजी परिस्थितियों को ध्यान में रखना चाहिए था, जहां निजी कंपनियां भी निजीकरण करने में फेल हो चुकी हैं। उन्होंने सवाल उठाया कि अगर रेलवे का निजीकरण होता है तो फिर हमीरपुर तक रेल रेल की पटरी कैसी पहुंचेगी, इस पर भी भाजपा को जबाव देना चाहिए। अगर प्रधानमंत्री अपनी बात से पलट सकते हैं तो फिर स्थानीय नेता भी तो अपनी बात से मुकर सकते हैं क्योंकि अब तक भी धरातल पर हमीरपुर तक रेल का सपना कहीं दिखा नहीं है। उन्होंने कहा कि सपने दिखाने वाली सरकार से जनता को पहले भी कोई आशा नहीं थी और अब तो सरकार के ऐसे फैसलों से सरकार के लिए जनता के दिल में जगह हीं बची है।
 


Edited By

prashant sharma

Related News