पच्छाद उपचुनाव : पच्छाद में 5 बजे तक 71.64% मतदान

10/21/2019 6:29:09 PM

पच्छाद (गोपाल) : प्रदेश की दो विधानसभा सीटों धर्मशाला व पच्छाद उपचुनाव के लिए आज सुबह आठ बजे से मतदान जारी है। पच्छाद में 5 बजे तक 71.64% मतदान हुआ।राजगढ़ के सीनियर सेकेंडरी स्कूल में मतदान शुरू हुआ। इस स्कूल में 2 बूथ बनाए गए है, जिसमें 1457 लोग अपने मत का प्रयोग करेंगे। जोकि सुबह से ही लाइनों में खड़े है। मौसम सुहावना होने की वजह से उनमें मतदान के प्रति खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। बता दें कि पहले बूथ राजगढ़ (3) में 462 पुरुष और 418 महिलाएं मतदान करेंगी। वहीं दूसरे बूथ में राजगढ़ (2) में 293 पुरुष और 294 महिलाएं मतदान करेंगी। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था भी पूरी तरह बनी हुई है। शाम पांच बजे पांच प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में बंद हो जाएगा। जीत का सेहरा किसके सिर सजेगा, यह 24 अक्टूबर को पता चलेगा।
 PunjabKesari

भाजपा प्रत्याशी रीना कश्यप ने परिवार सहित अपने मतदान केंद्र मेरी कोटी में मतदान किया।

पछाद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार गंगूराम मुसाफिर ने परिवार सहित डीलमन पंचायत घर में स्थित मतदान केंद्र में मतदान किया।

भाजपा प्रत्याशी रीना कश्यप ने किया जीत का दावा

BJP पर कांग्रेस महिला कार्यकर्ताओं को धमकाने का आरोप लगा है। इस दौरान कांग्रेस प्रत्याशी गंगूराम मुसाफिर ने निर्वाचन अधिकारी से शिकायत की। जिसमें उन्होंने लिखा है कि गाइडलाइन को दरकिनार कर बीजेपी के लोग सौ मीटर के दायरे में डमी ईवीएम और झंडे इत्यादि लेकर वोटरों को ना केवल प्रभावित करने का काम कर रहे हैं बल्कि डरा-धमका भी रहे हैं। उन्होंने शिकायत में ये भी कहा है कि बीजेपी के लोगों ने वहां एक महिला को थप्पड़ मारने की की धमकी भी दी है। एक वीडियो में महिला की आंखों से आंसू निकलते दिख रहे हैं। इसकी जानकारी तत्काल एसडीएम को दी गई है। मुसाफिर ने इस संबंध में मामला दर्ज करने का आग्रह किया है।

निर्दलीय प्रत्याशी दयाल प्यारी ने डाला वोट

कांग्रेस प्रत्याशी गंगू राम मुसाफिर के बेटे पंकज मुसाफिर ने पोलिंग बूथ नंबर 84 गडासर में बीजेपी द्वारा डमी मशीन रखने की निर्वाचन विभाग से शिकायत कर दी है। कांग्रेस पदाधिकारियों का आरोप है कि पोलिंग बूथ नंबर 84 गडासर में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने डमी मशीन रखी हुई थी व इससे लोगों को गुमराह कर रहे थे। आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने आचार संहिता का उल्लंघन करते हुए 100 मीटर के दायरे से पहले ही अपना एजेंट बूथ स्थापित किया हुआ था। इसके बाद प्रशासन भी मौके पर पहुंचा और बूथ को 100 मीटर के दायरे से बाहर कर दिया गया। इस पूरे वाक्ये की निर्वाचन विभाग कार्यालय शिमला से लिखित रूप में शिकायत कर दी है।
PunjabKesari


kirti

Related News