तिरंगे में लिपटा घर पहुंचा हिमाचल का लाल, सैन्य सम्मान के साथ दी अंतिम विदाई

punjabkesari.in Thursday, Aug 25, 2022 - 06:38 PM (IST)

कुनिहार (नेगी): जिला सोलन के एक और वीर सपूत ने देश के लिए शहादत पाई है। वीरवर सुबह तिरंगे में लिपटा शहीद देवराज का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव बोकरा लाया गया। शहीद की पार्थिव देह के पास पत्नी सत्या देवी बेसुध होकर बैठी रही। बेटा विनोद कुमार व बेटियों के आंसू तो जैसे थमने का नाम नहीं ले रहे थे। सभी लोगों की आंखें नम थीं। शहीद का अंतिम संस्कार गांव के ही श्मशानघाट में सैन्य सम्मान के साथ किया गया। शहीद के बेटे विनोद कुमार ने उन्हें मुखाग्नि दी व सेना के जवानों ने उन्हें सलामी दी। इस मौके पर सेना के अधिकारियों में एसआई जीडी रजनीश कुमार, अश्विनी कुमार, हवलदार सरत कुमार, पुलिस थाना कुनिहार के जवानों ने शहीद को भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
PunjabKesari

सिक्किम में पोस्टिंग के दौरान हार्ट अटैक से हुई मौत
बोकरा निवासी देवराज वर्ष 1988-89 में 11 बटालियन आईटीबीपी में भर्ती हुए थे। वर्तमान में उनकी पोस्टिंग सिक्किम पैंगाग में थी। यहीं 23 अगस्त को अचानक उनको साइलैंट हार्ट अटैक आ गया। उनका बेटा विनोद कुमार भी सेना में है। 
PunjabKesari

पोते के जन्मदिन आना था घर 
पोते का जन्मदिन धूमधाम से मनाना है। मैं छुट्टी लेकर जल्दी घर आऊंगा। कुछ ऐसा ही कुछ दिन पहले शहीद देवराज ने परिजनों से फोन पर कहा था। शहीद के भाई योधराज, कुलदीप कुमार व प्रदीप कुमार ने कहा कि देवराज बहुत मिलनसार था। जब भी गांव आता तो युवाओं को सेना में भर्ती होने के लिए प्रेरित करता रहता था।
PunjabKesari

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News