डांड पंचायत प्रधान पर सरकारी धन हड़पने का जड़ा आरोप, ग्रामीणों ने की कार्रवाई की मांग

5/7/2021 4:42:20 PM

सलूणी (शक्ति प्रसाद) : डांड पंचायत प्रधान पर ग्रामीणों ने सरकारी धन हड़पने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों का कहना है कि प्रधान ने मनरेगा के तहत 3 लाख रुपए से किए कार्य को 14 वां वित्त आयोग में दर्शा कर 2 लाख 70 हजार रूपए के सरकारी धन राशि को हड़पा है। यह आरोप गांव के सुरेश कुमार गांव पुन्ना व यासीन मुहम्मद ने लगाया है। इस संबंध में उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन सौंप कर निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने बताया कि पंचायत प्रधान ने पुन्ना से कंडियारा पक्का रास्ते के लिए मनरेगा के तहत  2019 -20 में 3 लाख रुपए खर्च कर निर्माण किया गया, हालांकि कार्य में अनियमिताएं बरती है। उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत 3 लाख रुपए से निर्मित कार्य पर ही पंचायत प्रधान ने वर्ष 2019-20 में 14वां वित्त आयोग के तहत 2 लाख 70 हजार की राशि खर्च की है, जबकि मौके पर कार्य किए बगैर 2 लाख 70 हजार रूपए की धांधली की है।

उन्होंने बताया कि  पंचायत प्रधान ने निर्माण कार्य स्थल पर मनरेगा व 14वां वित्त आयोग तहत खर्च की गई 5 लाख 70 हजार रूपए के  अलग अलग साईन बोर्ड लगाए थे, मगर जब उन्होंने इस कार्य की शिकायत उनके द्वारा संबन्धित विभाग के पास की तो पंचायत प्रधान ने  14वें वित्त आयोग के तहत लगाए साईन बोर्ड पर वर्ष 2019 को बदल कर वर्ष 2018-19 कर अपनी नाकामी को छिपाने का काम किया है। उन्होंने बताया कि भड़ोल मुहाल में एक सार्वजनिक शौचालय का निर्माण पंचायत द्वारा कागजों में दर्शाया गया है लेकिन मौके पर सार्वजनिक शौचालय नहीं बना है। इसके साथ वन विभाग द्वारा टैंक निर्माण किया गया था उस पर पंचायत प्रधान ने लीपापोती कर 14 वां आयोग के तहत 1 लाख 80 रुपए की गड़बड़ी की है। उन्होंने  पंचायत में विकासात्मक कार्यों में हुई गड़बड़ी की निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। सलूणी खंड विकास अधिकारी निशि महाजन का कहना है कि उन्होंने अभी हाल ही  में कार्यभार संभाला है और यह मामला मीडिया के माध्यम से उनके ध्यान ने आया है। इस मामले संबन्धित कार्यालय में छानबीन की जाएगी। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

prashant sharma

Recommended News

static