भाजपा समझे अपनी ज़िम्मेदारी, कोरोना काल में रैलियों पर लगाये प्रतिबंध: अभिषेक राणा

4/19/2021 3:20:13 PM

हमीरपुर : हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश सोशल मीडिया विभाग अध्यक्ष अभिषेक राणा ने कोरोना काल को लेकर भाजपा पर जमकर हमला बोला है। अभिषेक राणा ने कहा कि कोरोना काल के प्रदेश की जनता भाजपा के दोहरे चेहरे और चरित्र को पहचान चुकी है। एक तरफ देश कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है और दूसरी और भाजपा अपनी रैलियां और अन्य कार्यक्रम करने के लिए लोगों की भीड़ जुट रही है। भाजपा की यह रैलियां और कार्यक्रम भी कोरोना संक्रमण के फैलने का बड़ा कारण बन चुके हैं। 

भाजपा के कई नेता संक्रमित हो चुके हैं। यहां तक के भाजपा के कई नेताओं ने भी रैलियों और कार्यक्रमों पर आपत्ति जताई है  हिमाचल के वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने भी कहा है कि पार्टी रैलियां और अन्य राजनीतिक कार्यक्रमों को तुरंत बंद किया जाए। देखा जाए तो ऐसी महामारी के समय पर आज भाजपा के राजनीतिक कार्यक्रम और रैलियां ही संक्रमण का मुख्य केंद्र बन रही हैं। कोरोना महामारी को देखते हुए राहुल गांधी ने भी अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी है। क्योंकि वह इस गंभीरता को भलीभांति समझते हैं कि इस वक्त राजनीतिक रैलियों और कार्यक्रमों से ज्यादा जरूरी कोरोना महामारी को रोकना और लोगों की जिंदगी बचाना है। 

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी पंजाब में होने वाले सभी राजनीतिक कार्यक्रमों को रद्द कर दिया है। लेकिन भाजपा अपने हर कार्यक्रम को पूरे जोरों शोरों से कर रही है और लोगों की भीड़ भी इकट्ठा कर रही है जो लोगों की जान के लिए खतरा है। भाजपा की ऐसी रैलियों और कार्यक्रमों में सामाजिक दूरी एवं मास्क पहनने जैसे सुरक्षा नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। देशवासियों में भाजपा के इस रवैये के खिलाफ काफी रोष है। एक तरफ तो सरकार सभी काम धंधे बंद करवा रही है, स्कूल बंद करवा रही है और दूसरी ओर भाजपा अपने राजनीतिक कार्यक्रमों में कोई प्रबंध नहीं लगा रही। वहां जमकर लोगों को बुलाया जा रहा है। कांग्रेस पार्टी ने राजनीतिक कार्यक्रम बंद जरूर किए हैं। लेकिन पार्टी के नेता ऑनलाइन माध्यम से लगातार लोगों से जुड़े हुए हैं। बहुत से ऑफिस में ऑनलाइन तरीके से ही काम किया जा रहा है। कांग्रेस वर्चुअल रैलियों के माध्यम से लोगों और कार्यकर्ताओं के साथ संवाद कर रही।  

कांग्रेस ने लगातार सोशल मीडिया के माध्यम से चुनाव प्रचार में भी योगदान दिया। आने वाले समय में भी ऑनलाइन कार्यक्रम शुरू किए जाएंगे और पार्टी को और अधिक मजबूत किया जाएगा। कार्यकर्ताओं से कोरोना काल में भी प्रदेश कांग्रेस का सोशल मीडिया विभाग लगातार जुड़ा रहा। उपचुनाव के लिए भी सोशल मीडिया के माध्यम से सभी कार्यकर्ताओं से अब फीडबैक ली जाएगी। जब कांग्रेस पार्टी ऑनलाइन माध्यम से लोगों से जुड़ सकती है तो ऐसा भाजपा क्यों नहीं कर सकती। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के बयान की जमकर आलोचना करती है। भाजपा को जनता इसका जवाब जरूर देगी। नगर निगम चुनावों में कांग्रेस ने भाजपा से ज्यादा सीटें जीती हैं। जो कांग्रेस में लोगों के विश्वास को दर्शाता है। आने वाले उपचुनाव को लेकर भी कांग्रेस ने कमर कस ली है और इन चुनावों में भी भाजपा को करारी हार का सामना करना पड़ेगा।
 


Content Writer

prashant sharma

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static