धनोटू में वन मंत्री के खिलाफ लगे मुर्दाबाद के नारे, जानिए क्या है वजह

धनोटू में वन मंत्री के खिलाफ लगे मुर्दाबाद के नारे, जानिए क्या है वजह

सुंदरनगर (नितेश सैनी): धनोटू में बुधवार को टिंबर एसोसिएशन सुंदरनगर के सदस्यों ने सरकार व वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। टिंबर एसोसिएशन के सदस्यों व ठेकेदारों सहित मजदूरों ने ई-टैंडरिंग का विरोध करते हुए पुरानी स्थिति को बहाल करने की मांग की। टिंबर एसोशिएसन के प्रधान राकेश कुमार, नारायण दास, कांसी राम, चेतराम, दुर्गा दास मनोज कुमार व टेक सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि ई-टैंडरिंग से सरकार को तो घाटा हो ही रहा है साथ में ठेकेदारों की लाखों रुपयों की लकड़ी भी गोदामों में सड़ रही है। ठेकेदार यादविंद्र ने बताया कि 70 लाख रुपए की लकड़ी बिना बिके ही सड़ रही है। वहीं मजदूरों सोहन लाल, गुलाब सिंह, खेमचंद, सतीश कुमार, गोपाल व चिंत राम ने बताया कि काम नहीं होगा तो पैसा नहीं आएगा। ई-टैंडरिंग होने से लकड़ी नहीं बिक रही है, जिससे परिवार का पालन-पोषण करना मुश्किल हो गया है।

जंगलों को बाहरी कंपनी को ठेके पर देना चाहती है सरकार 
टिंबर एसोसिएशन के प्रधान राकेश कुमार ने कहा कि आम आदमी को यदि लकड़ी खरीदनी होगी तो पहले 1700 रुपए फीस जमा करवाए, फिर लाइन में लगे और जब बारी आए तो विभाग कहे कि लकड़ी खत्म हो चुकी है तो यह आम आदमी के साथ अन्याय है। सरकार किसी बाहरी कंपनी को क्यों हमारे जंगलों को ठेके पर देना चाहती है। टिंबर एसोसिएशन के सदस्यों ने कहा कि सरकार किसी कंपनी को प्रदेश के जंगलों को कटने के लिए देने वाली है, जो हमारे पर्यावरण और समाज के लिए नकारात्मक होगी।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन