वन विभाग ने कसा शिकंजा, खैर के 15 मौछों सहित 4 गिरफ्तार, एक फरार

वन विभाग ने कसा शिकंजा, खैर के 15 मौछों सहित 4 गिरफ्तार, एक फरार

इंदौरा(अजीज खादिम): वन खंड इंदौरा के अंतर्गत वन विभाग ने वन काटुओं को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। विभाग ने इस मामले में 4 आरोपियों को धर दबोचा जबकि एक आरोपी अंधेरे का फायदा उठाते हुए भागने में सफल रहा है। मामले के संदर्भ में जानकारी देते हुए वन परिक्षेत्र अधिकारी शिव पाल सिंह ने बताया कि विभाग को गुप्त सूचना मिली थी कि वन खंड इंदौरा में वन काटू गिरोह सक्रिय है और बड़ी मात्रा में खैर के प्रतिबंधित लकड़ी का अवैध रूप से कटान किया जा रहा है, जिस पर वन खंड अधिकारी इंदौरा को रात्रि की गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए गए। 
PunjabKesari
वन विभाग ने गुप्त सूचना पर दबोचे आरोपी
मंगलवार को गुप्त सूचना के आधार पर वन खंड अधिकारी हरबंस लाल के नेतृत्व में वन रक्षकों की टीम ने सुरड़वां के जंगल में रात्रि 2 बजे दबिश देकर खुदराव भूमि पर खैर का कटान कर रहे 4 लोगों को मौके पर पकड़ लिया, जिसकी सूचना तुरंत पुलिस थाना इंदौरा को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस टीम घटना स्थल पर पहुंची और वन विभाग द्वारा पकड़े गए आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में वन काटुओं द्वारा काटे गए खैर के मौछों, खैर कटान में प्रयोग किए जाने वाले उपकरणों व वन काटुओं की 2 बाइकें (पी.बी. 07 ए.एक्स-5695 व पी.बी. 54सी-0596) जब्त कर लीं। 

पंजाब के रहने वाले हैं 4 आरोपी
पकड़े गए आरोपियों की पहचान कुलवीर सिंह बैंकर (35) पुत्र बचन चंद, दविंद्र कुमार उर्फ तोतू (37) पुत्र कश्मीर सिंह, सुनील कुमार उर्फ थुडिय़ा (25) पुत्र गुरबख्श गांव चमूही, डाकघर बैह कुशाला तहसील मुकेरियां, जिला (होशियारपुर) पंजाब और दविंद्र कुमार पुत्र कश्मीर सिंह व मदन लाल उर्फ मद्दु (32) पुत्र कर्म चंद निवासी गांव मैरा जट्टां स्थित कराड़ी तहसील मुकेरियां जिला होशियारपुर पंजाब के रूप में हुई है, जबकि सुरेंद्र उर्फ  ठिपू निवासी डूहग तहसील फतेहपुर जिला कांगड़ा मौके से फरार बताया जा रहा है। 

अवैध कटान नहीं होगा बर्दाश्त
थाना प्रभारी इंदौरा देवानंद गुलेरिया ने बताया कि अवैध कटान मामले में पकड़े गए आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि पकड़े गए खैर के मौछे विभाग के हवाले कर दिए गए हैं। वन परिक्षेत्र अधिकारी शिव पाल सिंह ने बताया कि विभाग दिन-रात जंगल में गश्त कर रहा है और अवैध कटान किसी सूरत में भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन