सुलझी मौत की गुत्थी, भाई ही निकला भाई का हत्यारा

सुलझी मौत की गुत्थी, भाई ही निकला भाई का हत्यारा

रिकांगपिओ : गत माह 27 फरवरी को जिला किन्नौर के कोठी गांव में मिले ज्योति प्रकाश निवासी कोठी के शव की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। इसमें ज्योति प्रकाश की मौत का हत्यारा उसका छोटा भाई अमर प्रकाश ही निकला। पुलिस द्वारा ज्योति प्रकाश के भाई अमर प्रकाश को 21 मार्च तक रिमांड पर लिया था, जिस दौरान आरोपी अमर प्रकाश ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। विदित है कि गत माह 27 फरवरी को कोठी गांव के ज्योति प्रकाश का शव अद्र्धनग्न अवस्था में कोठी गांव में मिला था तथा पुलिस ने धारा 302 के तहत रिकांगपिओ थाना में मामला दर्ज किया था। ज्योति प्रकाश की मौत से पर्दा उठाने के लिए एस.पी. किन्नौर रोहित मालपाणी द्वारा एस.एच.ओ. रिकांगपिओ रघुवीर सिंह के नेतृत्व में विशेष टीम गठित की गई थी। 

आपसी रंजिश के चलते की भाई की हत्या 
पुलिस टीम ने इस मामले की गहनता से छानबीन की तथा छानबीन के दौरान पुलिस को मृतक ज्योति प्रकाश के छोटे भाई अमर प्रकाश के खिलाफ कुछ सबूत भी मिले। पुलिस ने सबूतों के आधार पर अमर प्रकाश को हिरासत में लिया था तथा कोर्ट में पेश करने पर कोर्ट द्वारा उसे 21 मार्च तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। रिमांड के दौरान आरोपी ने कबूल किया कि उसने ही 26 फरवरी की रात को अपने बड़े भाई ज्योति प्रकाश की हत्या की है तथा ज्योति प्रकाश की हत्या करने के लिए उसने डंडे का प्रयोग किया था, वहीं एस.पी. किन्नौर रोहित मालपाणी ने बताया कि आरोपी अमर प्रकाश ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है कि उसने ही अपने बड़े भाई ज्योति प्रकाश की हत्या की है। उन्होंने यह भी बताया कि आपसी रंजिश के चलते अमर प्रकाश ने अपने भाई ज्योति प्रकाश की हत्या की है।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !