राजा बनाम राजा हुई टोपी Politics, महेश्वर ने दिया ये बयान

राजा बनाम राजा हुई टोपी Politics, महेश्वर ने दिया ये बयान

शिमला (मनमिंदर) : चुनावी बेला में बीते दिन शिमला में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह द्वारा टोपी फेंकने के मामले में लगातार सियासत गरमाती जा रही है। जिला कुल्लू में आज पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए स्थानीय विद्यायक महेश्वर सिंह ने कहा कि टोपी हिमाचल वासियो खासकर के ऊपर हिमाचल के निवासियों की पहचान है यह के लोगों की शान है इस तरह टोपी के फेंककर वीरभद्र सिंह ने पूरे हिमाचल वासियो का अपमान किया है टोपी का रंग चाहे कोई भी हो उसे इज़्ज़त के साथ पहना जाता है और रंग की बात पर उन्होंने कहा कि पूरे हिमाचल में वक़्त के साथ साथ रंग बदलता रहता है लोगो अपने हिसाब से अपनी पसंद का रंग पहनते है टोपी चाहे कुल्लू की हो या किन्नौर की एक ही होती है अब तो टोपी को हिमाचलियों के साथ पर्यटक भी पहनते है।

मुख्यमंत्री को अपनी इस करनी के लिए मांगनी चाहिए माफी
महेश्वर सिंह ने कहा कि टोपी पहाड़ियों की पहचान है पर जिस तरह से मुख्यमंत्री ने टोपी को फेंका है उससे हिमाचल वासियो का अपमान हुअा है टोपी किसी पार्टी की पहचान नही है यह हिमाचल वासियो की पहचान है मुख्यमंत्री को अपनी इस करनी के लिए माफी मांगनी चाहिए।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !