यहां ‘इस’ सुविधा के लिए तरसे 89 पंचायतों के बाशिंदे, मजबूरी में कर रहे यह काम

यहां ‘इस’ सुविधा के लिए तरसे 89 पंचायतों के बाशिंदे, मजबूरी में कर रहे यह काम

सुरंगानी: विकास खंड सलूणी व विकास खंड तीसा की 89 पंचायतों के बाशिंदों के लिए उपमंडल सलूणी से उपमंडल तीसा के लिए कोई भी सीधी बस की सुविधा नहीं होने से मजबूरन क्षेत्र के लोगों को लंबी दूरी का सफर तयकर वाया कोटी सड़क मार्ग से सफर को पूरा करना पड़ रहा है, जिसके चलते जहां लोगों का अधिक समय लग रहा है तो वहीं महंगाई के इस दौर में अधिक धन खर्च करना पड़ रहा है। इस रूट पर कोई भी सीधी बस की सुविधा न होने से जहां लंबा सफर तय करना पड़ रहा है वहीं बसों की अदला-बदली में ही दिन व्यतीत हो जाता है, जिसके चलते जहां सरकारी कामकाज लटक रहे हैं तो वहीं हर वर्ग इस सुविधा के अभाव में तरस रहा है। 

पहले से ही बसों की भारी कमी
क्षेत्र के बाशिंदों में हरिदेव सिंह, इकबाल मोहम्मद, दीन मोहम्मद, रफीक, मौसमदीन, खैरदीन, हैदरअली, रहमत अली, फारूक, हरि सिंह, केवल कुमार, पवन कुमार, बीना देवी, रत्तो देवी, शिव देई, चंचलो, सीमा देवी, रीता व पानो देवी आदि का कहना है कि पहले ही इन क्षेत्रों में पथ परिवहन निगम की बसों की भारी कमी चली आ रही है तो वहीं इन क्षेत्रों में कोई भी सीधे बस के रूट न होने के कारण लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। उन्होंने मांग की कि यदि विभाग द्वारा सलूणी से तीसा के लिए वाया सुरंगानी बस को चलाई जाती है तो लोगों को लंबी दूरी से निजात मिलेगी। पंचायतों के प्रधानों व उपप्रधानों सहित पदाधिकारियों ने निगम से मांग की है कि इस रूट पर बस सुविधा को चलाया जाए।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!