लोहड़ी की खुशियां मातम में बदली, 2 घरों के बुझे चिराग

लोहड़ी की खुशियां मातम में बदली, 2 घरों के बुझे चिराग

चंबा: चंबा के चुराह उपमंडल में दो परिवारों के लिए लोहड़ी के त्योहार की खुशियां उस समय मातम में बदल गई, जब गौशाला में अचानक भड़की आग में 2 मासूम बच्चों की जान चली गई। जानकारी के मुताबिक शनिवार शाम चुराह की करेरी पंचायत के कठवानी गांव में गौशाला में लगी आग के चलते अंदर मौजूद दो मासूमों की मौत हो गई, जबकि एक बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गई है। आग की इस घटना में प्रभावित परिवार के करीब आधा दर्जन मवेशी भी जलकर मर गए। घटना की सूचना मिलने पर मैडीकल कॉलेज अस्पताल चम्बा में ए.डी.एम. बलवीर सिंह ठाकुर ने मौके पर पहुंच कर प्रभावित 2 परिवारों को 10-10 हजार की फौरी राहत दी। 
PunjabKesari

शनिवार शाम करीब 4 बजे हुई घटना
बताया जा रहा है कि घर व गऊशाला साथ-साथ ही थे जिसके चलते गऊशाला में किसी तरह से आग लग गई तथा इससे पहले कि कोई कुछ कर पाता आग ने घर को भी अपनी चपेट में ले लिया। वहीं घर में मौजूद 3 बच्चे जिसमें सतपाल का 2 वर्षीय बेटा राकेश व 4 वर्षीय भारती के साथ जगदीश का बेटा दीपू आग में बुरी तरह से फंस गए। इस दौरान मौके पर ही आग की चपेट में आकर राकेश की मौत हो गई जबकि दीपू ने मैडीकल कालेज अस्पताल पहुंच कर दम तोड़ा, जबकि भारती को मैडीकल कॉलेज टांडा रैफर कर दिया गया। यह दुर्घटना शनिवार शाम करीब 4 बजे घटी। लोगों का कहना है कि घर में परिवार के किसी बड़े व्यक्ति के मौजूद न रहने के चलते यह आग की घटना एक हृदय विदारक दुर्घटना का रूप धारण कर गई। 
PunjabKesari

क्या कहते हैं एस.पी. चम्बा
एस.पी. चम्बा डा. वीरेंद्र तोमर ने बताया कि पुलिस ने सूचना मिलने पर मौके पर जाकर दुर्घटना के कारणों बारे जानकारी हासिल करने का प्रयास किया। पुलिस मामले से जुड़े प्रत्येक पहलू को ध्यान में रखकर अपनी जांच प्रक्रिया को अंजाम देगी। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन