ATM गिरोह का मुख्य किंग पिन निकला वर्कशॉप का मैकेनिक, पुलिस तलाश में जुटी

ATM गिरोह का मुख्य किंग पिन निकला वर्कशॉप का मैकेनिक, पुलिस तलाश में जुटी

ऊना (सुरेन्द्र): ए.टी.एम. से जालसाजी के जरिए लोगों के खाते से पैसे उड़ाने वाले गिरोह का मुख्य किंग पिन एक वर्कशॉप में काम करने वाला मैकेनिक है। ऊना पुलिस ने जिन 3 आरोपियों को पकड़ा था उनके खुलासे के आधार पर अब आगामी जांच जारी है। पुलिस ने संदेह के आधार पर जब 3 युवकों को पकड़ा तो उनके कब्जे से न केवल चरस बरामद हुई थी बल्कि 11 ए.टी.एम. कार्ड भी पकड़े गए थे। पूछताछ हुई तो पुलिस भी हैरान रह गई। ऊना, कांगड़ा, मंडी व कुल्लू सहित कई अन्य स्थानों पर सक्रिय इस गैंग के सदस्यों ने 80 से अधिक लोगों के ए.टी.एम. से धोखाधड़ी की थी। पालमपुर के ही एक व्यक्ति से साढ़े 3 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने का खुलासा भी हुआ। ऊना पुलिस ने इसकी जानकारी सभी जिलों की पुलिस को दे दी है ताकि आगे की जांच की जा सके। एस.पी. दिवाकर शर्मा के मुताबिक इस गैंग का एक हैंडलर वर्कशॉप में कार्यरत मैकेनिक है। पुलिस इसकी भी तलाश में जुटी है।
PunjabKesari
ए.टी.एम. में मदद मांगने वालों को बनाते थे निशाना
एस.पी. ऊना दिवाकर शर्मा ने बताया कि आरोपियों का निशाना वह लोग होते थे जो ए.टी.एम. से पैसे की निकासी के लिए आते थे और उन्हें किसी सहयोगी की मदद चाहिए होती थी। ए.टी.एम. के कैंसल बटन को यह फैवीक्विक से जाम कर देते थे। सामान्य व्यक्ति बनकर ए.टी.एम. के अंदर यह मदद के लिए आगे आते थे और ए.टी.एम. कार्ड को बदलकर कुछ ही देर में पैसे गायब कर देते थे। पिन को यह याद कर लेते थे। अधिकतर लूटी हुई राशि नशे पर खर्च की जाती थी। एस.पी. के मुताबिक इस पूरी गैंग को पकडऩे के लिए पुलिस जुटी हुई है। फिलहाल तीनों आरोपी ज्यूडिशियल कस्टडी में हैं। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन