चिंतपूर्णी में हालात बद से बदतर, सैंकड़ों भिखारी श्रद्धालुअों को कर रहे एेसे परेशान

चिंतपूर्णी में हालात बद से बदतर, सैंकड़ों भिखारी श्रद्धालुअों को कर रहे एेसे परेशान

चिंतपूर्णी: धार्मिक स्थल चिंतपूर्णी में भिखारियों की बढ़ती संख्या से हालात बद से बदतर हो चुके हैं। मंदिर में एक्स सर्विसमैन व होमगार्ड के कर्मचारी तैनात होने के बावजूद भिखारी मंदिर परिसर में पहुंच रहे हैं। मुख्य बाजार में सैंकड़ों भिखारी, फर्जी सफाई कर्मचारी व हाथ में बड़े-बड़े झाड़ू लेकर श्रद्धालुओं को परेशान कर रहे हैं, लेकिन मंदिर न्यास कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। बाहरी राज्यों से झुग्गी-झोंपडिय़ों में रह रही कई महिलाएं दिनभर बाजारों में भीख मांग रही हैं। कई लोग अपने छोटे-छोटे बच्चों को भीख मांगने के लिए बाजार में छोड़ जाते हैं। उधर, मंदिर के आसपास करीब 30 से 40 बच्चों से कुछ लोग फूल बिकवाकर चांदी कूट रहे हैं, जिससे मुख्य बाजार में बाल मजदूरी की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। 


अब तक  कार्रवाई को अमल में नहीं लाया गया 
मंदिर अधिकारी प्रेम लाल शर्मा ने बताया कि भिखारियों को खदेडऩे के लिए पुलिस को सूचित कर दिया गया है।  एस.एच.ओ. अमरीक सिंह ने बताया कि भिखारियों को हटाने के लिए पुलिस की टीम भेजी जाती है, लेकिन उक्त लोग फिर से सक्रिय हो जाते हैं। गत रोज एस.पी. संजीव गांधी ने डी.एस.पी. अम्ब को तुरंत कार्रवाई के आदेश जारी किए थे, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !