पूर्व सरकार की योजनाओं के नाम बदल सकती है जयराम सरकार!

पूर्व सरकार की योजनाओं के नाम बदल सकती है जयराम सरकार!

शिमला: पूर्व सरकार की तरफ से प्रदेश में चलाई जा रही योजनाओं के नाम बदल सकते हैं। सूत्रों के अनुसार सरकार की तरफ से इस स्तर पर कसरत शुरू हो गई है। इसके तहत यह देखा जा रहा है कि पूर्व कांग्रेस सरकार ने पहले से चल रही किन योजनाओं के नाम बदले थे। पूर्व सरकार की तरफ से जिन योजनाओं के नाम बदले गए थे, उनको वर्तमान सरकार भी बदल सकती है। इसके तहत एम्बुलैंस सेवा और स्कूलों में वितरित की जाने वाली वर्दी योजना के नाम बदले जाने की पूरी संभावना है। इन योजनाओं को सरकार पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रख सकती है। 


कई अन्य ऐसी योजनाओं के नाम बदले जाने की पूर्व संभावना है, जिसे कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए बदल दिया था। हालांकि इस बारे में अभी कोई भी कुछ कहने से इंकार कर रहा है। केंद्र प्रायोजित और प्रदेश सरकार की तरफ से चलाई जाने वाली योजनाओं के नाम भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और दीन दयाल उपाध्याय सहित अन्य नामों पर रखे जा सकते हैं। प्रदेश सरकार की तरफ से इन नई योजनाओं के नाम की औपचारिक घोषणा पूर्ण राज्यत्व दिवस, गणतंत्र दिवस या फिर बजट में की जा सकती है।


इसी तरह नए संस्थानों को भी मिलेंगे नए नाम
प्रदेश में खोले जाने वाले नए संस्थानों को भी नए नाम मिलेंगे। इसके तहत प्रदेश में जो भी बड़ा संस्थान केंद्र या प्रदेश सरकार की तरफ से खोला जाता है, उसे भाजपा से जुड़े नेताओं के नाम से शुरू किया जा सकता है। केंद्र सरकार की तरफ से बिलासपुर के कोठीपुरा में बनने वाले एम्स का नाम भी बाद में किसी भाजपा नेता के नाम पर रखा जा सकता है।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन