ड्यूटी पर तैनात Constable ने उठाया यह खौफनाक कदम, Suspend

ड्यूटी पर तैनात Constable ने उठाया यह खौफनाक कदम, Suspend

नाहन: हिमाचल के जिला सिरमौर स्थित छठी आई.आर.बी. धौलाकुआं में ड्यूटी पर तैनात एक कांस्टेबल ने सरकारी राइफल से गोली चलाकर खुद को मारने की कोशिश की। गोली उसे तो नहीं लगी लेकिन आत्महत्या के प्रयास ने ड्यूटी पर तैनात और जवानों की जान खतरे में जरूर डाल दी। कांस्टेबल का कहना है कि पुलिस विभाग की ओर से लिए जा रहे बी-1 टैस्ट में उसका नाम न होने से उसने यह कदम उठाया। एफ.आई.आर. दर्ज करने के साथ उसके खिलाफ विभागीय जांच के भी आदेश दिए गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार कांस्टेबल चंदन कुमार छठी आई.आर.बी. धौलाकुआं में तैनात है।

बतौर संतरी दे रहा था ड्यूटी 
शुक्रवार को बतौर संतरी ड्यूटी देते वक्त सरकारी राइफल से उसने गोली चला दी। गोली गुमटी से बाहर हवा में चल गई। मुख्य आरक्षी हरजीत सिंह वहां पहुंचे तो उन्होंने कांस्टेबल चंदन कुमार से पूछताछ की। माजरा चौकी में दिए बयान में मुख्य आरक्षी हरजीत सिंह ने कहा कि उसके पास एस.एल.आर. बट नंबर-7 राइफल थी। 20-20 रौंद के दो मैगजीन भी दिए गए थे। जब उससे पूछताछ की गई तो उसने बताया कि पदोन्नति के लिए हो रहे बी-1 टेस्ट में उसका नाम न होने से वह परेशान था।

अचानक मुड़ गया बंदूक की नली का रुख 
वह आत्महत्या करना चाहता था। खुद पर गोली चलाने जा रहा था कि किसी के आने की आहट सुनाई दी। अचानक बंदूक की नली का रुख मुड़ गया और गोली गुमटी से होते हुए हवा में चली गई। मुख्य आरक्षी ने माजरा चौकी पुलिस को बताया कि कांस्टेबल ने जहां आत्महत्या करने का प्रयास किया, वहीं दूसरे जवानों की जान भी खतरे में डाली है। सरकारी राइफल का भी दुरुपयोग हुआ है। पुलिस ने कांस्टेबल चंदन कुमार के खिलाफ भा.दं.सं. की धारा 336, 309, 25 और आम्र्स एक्ट की धारा 30-34-59 के तहत मामला दर्ज कर लिया है। एस.पी. सौम्या साम्बशिवन ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। 

प्रमोशन टैस्ट के लिए योग्य नहीं था कांस्टेबल
छठी आई.आर.बी. की कमांडैंट बिंदु सचदेवा ने बताया कि जवान ने आत्महत्या का प्रयास किया है। प्रमोशन टैस्ट के लिए वह योग्य नहीं था। लिहाजा उसका नाम उसमें नहीं आया। गोली चलाने के लिए उसके खिलाफ विभागीय जांच की जा रही है। उसे सस्पैंड भी कर दिया है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!