विस चुनाव में नेतृत्व को लेकर Bali का खुलासा, बताया क्या है कांग्रेस हाईकमान का फैसला

विस चुनाव में नेतृत्व को लेकर Bali का खुलासा, बताया क्या है कांग्रेस हाईकमान का फैसला

ऊना (अमित शर्मा): सी.एम. वीरभद्र सिंह और परिवहन मंत्री जी.एस. बाली के बीच चल रहे बाकयुद्ध में बाली ने एक बार फिर सी.एम. पर तंज कस दिया है। ऊना में पत्रकार वार्ता के दौरान सी.एम. के रिटायरमैंट वाले बयान पर उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि यह हाईकमान और उनके बीच में है। उन्होंने कहा कि यदि किसी ने रिटायर होना है तो उसे किसी से पूछने या इजाजत लेने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि जब मैं रिटायर होना चाहूंगा तो उस समय किसी से नहीं पूछूंगा, सीधी घोषणा कर दूंगा। 

सरकार-संगठन के बीच दूरियों व मनमुटाव से दुखता है दिल
पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि प्रदेश में सरकार व संगठन के बीच दूरियों व मनमुटाव से दिल दुखता है। ऐसा नहीं होना चाहिए इससे नुक्सान होता है। उन्होंने कहा कि नेताओं को भी अपनी जुबान पर चुप्पी साधनी चाहिए तथा ऐसा नहीं बोलना चाहिए ताकि कभी वे मिलें तो नजरें व सिर न झुकाना पड़े। उन्होंने कहा कि मैं सोनिया गाांधी के आशीर्वाद से वीरभद्र कैबिनेट में मंत्री हूं। अगर सी.एम. साहिब को मेरा काम ठीक नहीं लगता तो वह अपने विवेक से फैसला लें।  

हाईकमान ने किसी को नहीं सौंपा प्रदेश का नेतृत्व
कांग्रेस द्वारा विधानसभा चुनावों की कमान के सवाल पर उन्होंने कहा कि हमारी हाईकमान सोनिया गांधी व राहुल गांधी है। उनका हर आदेश व निर्देश मान्य होगा। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए हाईकमान की ओर से अभी किसी को भी प्रदेश का नेतृत्व सौंपा नहीं गया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल कांग्रेस के प्रभारी सुशील कुमार शिंदे भी इस बात को साफ कर चुके हैं और कई बार इस पर बोल भी चुके है, ऐसे में कोई संदेह नहीं रहना चाहिए।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!