‘फ्री हैंड’ के बहाने बाली का वीरभद्र सिंह पर तंज, दिया बड़ा बयान

‘फ्री हैंड’ के बहाने बाली का वीरभद्र सिंह पर तंज, दिया बड़ा बयान

धर्मशाला: बुधवार को धर्मशाला में पत्रकारों से बातचीत के दौरान परिवहन मंत्री जी.एस. बाली ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर पलटवार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मेरे बॉस हैं। मैं उनकी कैबिनेट का मंत्री हूं। मैंने हमेशा ईमानदारी और कर्मठता से काम किया है। मुख्यमंत्री को मेरा काम अच्छा नहीं लगा तो वह मुझे कैबिनेट से निकाल सकते हैं। बता दें कि बाली के भाजपा में जाने की चर्चा पर सी.एम. ने बयान दिया था वे बाली की धमकियों से नहीं डरते, जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं। बाली ने तंज कसते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के पास फ्री हैंड है, किसे रखना है और किसे नहीं, यह सब उन पर निर्भर करता है। उन्हें मुझे निकालने का पूरा फ्री हैंड है। गौर रहे कि मुख्यमंत्री चुनाव से पहले हाईकमान से फ्री हैंड मांग रहे हैं।

कौन क्या बोलता है, मैं नहीं लेता संज्ञान
उन्होंने कहा कि कैबिनेट की बैठकों में वह किसी से भी झगड़ा नहीं करते बल्कि चर्चा करते हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा और उनके रिश्तों में कभी कोई खटास नहीं थी। वीरभद्र और सुक्खू की तकरार का चुनाव पर पडऩे वाले असर को लेकर स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह द्वारा दिए बयान पर बाली ने कहा कि कौन क्या बोलता है, वह इसका संज्ञान नहीं लेते। कौन क्या कर रहा है, उस पर हाईकमान की पूरी नजर है।

एच.आर.टी.सी. के सभी पैंशनरों की अदायगी 
इस दौरान उन्होंने कहा कि एच.आर.टी.सी. ने सभी पैंशनरों की अदायगी कर दी है। कोई बकाया शेष नहीं है। उन्होंने कहा कि जो कर्मचारी नेता राजनीति करते हैं, उन्हें चुनाव लडऩा चाहिए। कर्मचारियों को पूरे लाभ दिए गए हैं, इसके लिए वह किसी भी स्तर पर चर्चा करने को तैयार हैं।



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !