14 साल की नाबालिग सहेगी Abortion का दर्द, पढ़िए मासूम की रुला देने वाली दास्तां

14 साल की नाबालिग सहेगी Abortion का दर्द, पढ़िए मासूम की रुला देने वाली दास्तां

नाहन: नाहन में 14 साल की पीड़ित बच्ची को ऐसा जख्म मिला है जिसे वह कभी भुला नहीं पाएगी। अब रेप पीड़िता को गर्भपात का दर्द झेलना पड़ेगा। हालांकि पीड़िता को उसके गर्भ में पल रहे 15 सप्ताह के शिशु के बारे में नहीं बताया गया है। हैरानी की बात यह है कि इस तरह का ऑपरेशन डॉ. वाईएस परमार मैडिकल कॉलेज में कभी नहीं हुआ। ऐसा ऑपरेशन पहली बार होने जा रहा है। साथ ही पीड़िता ऑपरेट के बार में भी नहीं बताया गया है। डॉक्टरों की टीम शिशु के गर्भ में ही डीएनए सैंपल भी लेगी ताकि इनका मिलान आरोपी के डीएनए से हो सके। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।


2 महीने पहले हुआ था पीड़िता से बलात्कार
उधर, कानून बलात्कार पीड़िता को 20 सप्ताह तक गर्भपात की अनुमति देता है। 12 सप्ताह तक एक डॉक्टर ऑपरेट कर सकता है, जबकि इससे ऊपर पैनल ऑफ डॉक्टर्स को जिम्मेदारी मिलती है। वहीं कोर्ट की अनुमति के बिना गर्भपात नहीं करवाया जा सकता। बताया जाता है कि 11 सितंबर को श्री रेणुका जी पुलिस ने जरग की एक महिला की शिकायत पर आईपीसी की धारा-376 के तहत मामला दर्ज किया था। रेप पीड़िता की उम्र 14 साल होने की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने पोक्सो एक्ट को भी शामिल कर लिया गया है। महिला ने बताया था कि 2 महीने पहले जब उसकी बेटी पशु चराने गई थी तो वहां आरोपी ओम प्रकाश ने उससे बलात्कार किया था। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !